हर विभाग में होगी भर्तियां, जानिए कहां कितनी नौकरियां कर रही हैं आपका इंतजा


प्रबोधकों की 10 हजार पदों पर भर्ती की प्रक्रिया शुरू हो गई है और शिक्षकों के 30 हजार पदों पर भर्ती जल्द होने वाली है। आरएएस और अधीनस्थ सेवाओं के 723 पदों के लिए विज्ञापन जारी हो चुका है और इससे पहले जारी भर्ती में आरएएस के दूसरे चरण की परीक्षा भी हो चुकी है। एनएसएसओ की 64वें राउंड की रिपोर्ट के अनुसार राज्य में शिक्षित एवं अशिक्षित बेरोजगारों की संख्या 47.28 लाख है, जबकि रोजगार विभाग में रजिस्टर्ड बेरोजगारों की संख्या 7,13,432 है।
चार साल में हुई बड़ी नियुक्तियां  
तृतीय श्रेणी शिक्षक- 39 हजार   
माध्यमिक शिक्षा में प्रबोधक-23,904  
शिक्षक ग्रेड द्वितीय-8,750  
माध्यमिक शिक्षा समायोजन-3,561  
एएनएम-3,105  
चिकित्सा अधिकारी-2,964  
फार्मासिस्ट-1,343  
नर्स ग्रेड द्वितीय-2,621  
वनरक्षक-1002  
किस विभाग में कितनी भर्तियां
पंचायतीराज : कनिष्ठ लिपिकों की 19,515 की भर्ती जारी। 3,275 पदों के लिए प्रक्रिया में। प्रबोधकों के 10,000 पदों के विज्ञापन जारी करने की तैयारी है। तृतीय श्रेणी शिक्षकों के लिए 30,000 पदों पर भर्ती की तैयारी है।
चिकित्सा : विभिन्न कैडर के नॉन गजटेड 28 हजार और गजटेड के करीब एक हजार पदों पर विभिन्न स्तरों पर भर्ती की प्रक्रिया चल रही है। 

शिक्षा : शिक्षा सहयोगी के 33 हजार पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू। शिक्षा सहायकों के 9,910 पदों की भर्ती प्रक्रियाधीन।

बिजली : 8100 पदों पर भर्ती लगभग पूरी। नए पदों के सृजन की तैयारी।

पीएचईडी : विभाग में 1300 पद लेबर, 200 जेईएन की प्रक्रिया जारी, जल्द विज्ञापन जारी होने की संभावना।
पुलिस : 12 हजार कांस्टेबल पदों पर भर्ती प्रक्रिया जारी।
 
परिवहन : जेसीटीएसएल में 1520 भर्तियां। रोडवेज अधिकारी के अलग-अलग 121 पद। ड्राइवर-कंडक्टर के 942 पदों के लिए प्रक्रियाधीन।

कहां कितने बेरोजगार  
13 लाख बीएड-बीएसटीसी धारी।
1.90 लाख आरटेट प्रमाण पत्रधारी।
2 लाख इंजीनियरिंग व पॉलिटेक्निक डिग्री वाले युवा
50 हजार एमबीए डिग्री वालों को स्तरीय रोजगार नहीं
लॉ में 40 हजार
3 लाख विभिन्न संकायों में ग्रेजुएट जिन्होंने पढ़ाई छोड़ दी
5 लाख के करीब बेरोजगार वे हैं जो पांचवीं से ऊपर की पढ़ाई कर चुके हैं
1 लाख के करीब तकनीकी डिग्रीधारी। तीन लाख अन्य।   

1000 करोड़ तक का कारोबार

विशेषज्ञों के अनुसार विभिन्न पदों की भर्तियों से प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप में अगले छह माह में एक हजार करोड़ तक का कारोबार होने की संभावना है। इनमें कोचिंग, गाइड्स, फॉर्म, आवेदन शुल्क सहित भर्तियों को लेकर अन्य खर्च शामिल हैं

No comments:

Post a Comment